हम साबित करेंगे चौकीदार चोर है: राहुल गांधी

नई दिल्ली, 14 दिसम्बरर, 2018: राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार 13 दिसम्बरर की शाम एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके राफेल सौदे पर कई सवाल उठाए और कहा कि हम ये साबित करके रहेंगे कि चौकीदार ही चोर है। पीएम मोदी सच्चावई के जाहिर होने से कभी राफेल डील के बारे में नहीं बोलते हैं। राहुल गांधी ने कोर्ट के फैसले पर कहा कि कोर्ट ने राफेल पर जिस सीएजी की रिपोर्ट का हवाला दिया है वो तो पीएसी के पास आई ही नहीं। पीएसी के अध्यक्ष मलिकार्जुन खड़गे ने भी राहुल गांधी के बयान का समर्थन किया है और कहा कि पीएसी के पास सीएजी की कोई रिपोर्ट नहीं आई है अगर रिपोर्ट आती तो यकीनन वो जनता के बीच भी जाती लेकिन ऐसा कुछ नहीं है।
राहुल गांधी ने कहा कि हम जनता की अदालत में ये केस लाना चाहते हैं। निर्मला सीतरमण ने पहले कहा कि राफेल की कीमतें गुप्त नहीं है फिर कहा ये गोपनीय है जबकि द सॉल्ड एविएशन के ब्रोशर में कीमत साफ 1600 करोड़ लिखी हुई है और जबकि एचएएल पहले से प्लेन बनाता आ रहा है उससे कॉन्ट्रेक्ट छीनकर आखिर क्यों 15 दिन पुरानी अंबानी की कंपनी को कॉन्ट्रेक्ट दिया गया?
उन्होंने कहा कि हमारे दो सवाल हैं। पहला कॉन्ट्रेक्ट एचएएल से छीनकर अनिल अंबानी को कैसे दिया गया? और दूसरा आपने भारतीय युवाओं से नौकरी क्यों छीनी?
कांग्रेस अध्यकक्ष राहुल गांधी ने कहा कि राफेल की कीमतें सीएजी के साथ शेयर की गई और पीएसी ने उस रिपोर्ट की जांच की, लेकिन पीएसी की रिपोर्ट पीएसी कमेटी के पास आई ही नहीं। उन्होंरने कहा कि ये संभव हो सकता है कि प्रधानमंत्री ने पीएमओ में अपना पीएसी बिठा लिया हो। राहुल गांधी ने पीएम मोदी को चुनौती देते हुए कहा कि आप जो छुपाना चाहते हैं छुपाएं, जहां भागना चाहते हैं भागें लेकिन जनता जान चुकी है कि चौकीदार ही चोर है।
-आईटीएन डेस्क