केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर और डॉ. उदित राज ने दिव्यांगो और बुजुर्गों को उपकरणों का उपहार दिए

बाहरी दिल्ली, 14 दिसम्बर 2018 : उत्तर-पश्चिम दिल्ली सांसद डॉ. उदित राज के नेतृत्व में आज बादली विधानसभा के नर्सरी पार्क में दिव्यांगो एवं बुजुर्गों हेतु विशाल निःशुल्क सहायक उपकरण वितरण समारोह का आयोजन किया गया | यह विशाल कार्यक्रम भारत सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के द्वारा आयोजित किया गया| स्थानीय सांसद डॉ. उदित राज के नेतृत्व में आयोजित इस विशाल कार्यक्रम में सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री श्री कृष्ण पाल गुर्जर मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए | इस विशाल समारोह में 458 दिव्यांगों को और 259 बुजुर्गों को लगभग 1000 विभिन्न प्रकार के सहायक उपकरण जैसे श्रवण सम्बन्धी उपकरण, कुष्ठ रोग किट, कुष्ठ रोगी के लिए मोबाइल, स्मार्ट केन, ब्लाइंड स्टिक, एमएसआईईडी किट, ब्रेल किट, मोटर चालित ट्राईसाइकिल, ट्राईसाइकिल, व्हील चेयर, बैसाखी, वाल्किंग स्टिक, रोलैटर, कैलिपर जोड़ और चश्मा इत्यादि वितरित किये गए| इन उपकरणों पर सरकार के द्वारा लगभग 72 लाख रुपये खर्च किये गये | इस कार्यक्रम में उत्तर-पश्चिम संसदीय क्षेत्र से लगभग 5 हजार लोग उपस्थित हुए जिसमे लगभग 700 दिव्यांग भी शामिल थे | कुछ ऐसे दिव्यांग भी शामिल हुए जिनका रजिस्ट्रेशन किया गया ताकि भविष्य में होने वाले शिविर में उन्हें भी आवश्यक उपकरण दिए जा सके |
केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि “ जब से मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने मुझे इस मंत्रलाय के लिए काम करने का अवसर दिया तब से लेकर अब तक पिछले 4 वर्षों में 350 लोकसभा संसदीय क्षेत्रों में 8000 से अधिक कैम्प लगाये गए जिसके माध्यम से अभी तक 9 लाख से अधिक दिव्यांगजन लाभान्वित हुए हैं | डॉ. उदित राज ऐसे पहले सांसद है जिन्होंने अपनी मेहनत और लगन से दूसरी बार इस तरह का विशाल कैम्प लगाने का काम किया है | इससे पहले भी एक विशाल कैंप का आयोजन किया गया था जिसके माध्यम से 1 हजार से अधिक दिव्यांग जन लाभान्वित हुए थे और इस बार दिव्यांग जन के साथ साथ बुजुर्गों का भी ख़ास ध्यान रखा गया है, यह वाकई सांसद महोदय का सराहनीय कार्य है |
डॉ. उदित राज ने विशाल सभा को संबोधित करते हुए कहा कि सबसे पहले मैं केंद्रीय राज्यमंत्री श्री कृष्ण पाल गुर्जर का इस विशाल कार्यक्रम में आने के लिए धन्यवाद करता हूँ और मैं यह जानता हूँ कि यह कार्य जितना दिखने में सरल लग रहा था बल्कि इससे कहीं ज्यादा कठिन था लेकिन एलिमको टीम की मेहनत और सहायता ने इसे जरुर आसान बना दिया | दिव्यांगजनों और विशेष जरुरतमंद बच्चों को प्रमाण-पत्र मिलने में काफी कठिनाई का सामना करना पड़ता और इसके लिए कहीं न कहीं कार्यप्रणाली में बदलाव की आवश्यकता थी, जिसे हमारी केंद्र की सरकार ने आसान बनाया और उसी का नतीजा है 2 वर्ष के अन्दर ही दूसरी बार ऐसा विशाल कार्यक्रम कर पाने में सफल हो पाया हूँ | दिव्यांगजनों और बुजुर्गों के लिए हमारी सरकार लगातार उनके बेहतरी के लिए प्रयासरत है | प्रधानमंत्री जी के द्वारा दिया गया दिव्यांग शब्द वाकई में दिव्य जड़ी-बूटी की तरह कार्य कर रहा है जब से दिव्यांग शब्द का चयन शुरू हुआ है उसके बाद से विश्वास और सकारात्मक उर्जा का संचार देखने को मिल रहा है | भारतीय जनता पार्टी केवल किसी एक विकास पर काम नहीं करती है बल्कि हमारा प्रयास सदैव चहुंमुखी विकास का रहता है | मेरा पूरा प्रयास रहेगा कि मेरे संसदीय क्षेत्र उत्तर-पश्चिम दिल्ली में एक भी दिव्यांग सुविधाओं से अछूता नही रहेगा |