एक साधारण शादी बनी अम्बानी की शादी के सामने एक बड़ी मिसाल

दुनियां के सबसे धनी लोगों में से एक अंम्बानी परिवार जहां इन दिनों ईशा अंबानी के प्री-वेडिंग फ़ेस्टिवल सोशल मिडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है इस शाही परिवार की शादी का हिस्सा बनने के लिये अमेरिका का पूर्व राष्ट्रपति से लेकर राजनीति, क्रिकेट, बॉलीवुड और उद्योग जगत की बड़ी-बड़ी हस्तियां इसमें सम्मलित हो रही है। शादी के इस बड़ें जश्न में हिलेरी क्लिंटन का सम्मलित होना, बियॉन्से का पफ़ॉर्म करना और सलमान ख़ान का बैकग्राउंड डांसर बन जाना, ये सभी कारनामें अंबानियों परिवार की शादीयों में ही देखने को मिल सकते है। क्या आप जानना चाहेगें कि इस धनी परिवार की शादी का खर्च क्या है? ईशा अंबानी की शादी का कुल ख़र्च करीब 100 मिलियन डॉलर बताया जा रहा है।
ख़ैर,इन अमीर लोगों के शादियों के बीच एक और शादी इन दिनों हाल ही में सोशल मीडिया पर काफ़ी सुर्खियां बटोर रही है। भले ही यह कपल अंबानी परिवार जितना अमीर नहीं है, पर इनके शादी करने के तरीके ने सभी लोगों दिल जीत लिया है आइये जानते हैं एक अमीर परिवार की शादी और इस साधारण से कपल की शादी में क्या फ़र्क है।
अंबानी की शादी –
अंबानी परिवार की शादी में सम्मलित होने वाले मेहमानों के लिये Udai Vilas के अलावा उदयपुर के फ़ाइव स्टार होटल बुक कराये गये। जिसमें एक रात मात्र ठहरने की कीमत 58 हज़ार रुपये है। मेहमानों के आने जाने के लिये 40 चार्टेड फ़ाइट्स बुक कराई गई, जिनकी हर घंटे की कीमत 1 लाख़ 40 हज़ार रुपये है। इसके अलावा मेहमानों को एयरपोर्ट से लाने, ले जाने के लिये BMW और Jaguar जैसी मंहगी गाड़ियों का इस्तेमाल किया गया है शादी में होने वाले पफ़ॉमेंस के लिये एक रात की कीमत 15 करोड़ रुपये दी गयी है।
ईशा के शादी में दिये जाने वाले कार्ड की कीमत 3 लाख़ रुपये थी शादी के बाद वो जिस मकान पर रहेगी, वो उन्हे 475 करोड़ रुपये के गिफ़्ट के तौर में मिला है। इस शादी में वो सब कुछ था, जो शाही घरानों में देखा जा सकता है। लेकिन जिस दूसरी शादी की हम बात करे हैं, उनमें वो कोई सुविधा नहीं थी लेकिन फिर भी इस शाही शादी मुकाबले हर किसी के लिये क़ाबिले-ए-तारीफ़ ज़रूर थी।
तमिलनाडु की साधारण सी शादी –
Veena और Vignesh नामक इस कपल ने अपनी शादी को काफी समान्य तरीके से करने का फैसला किया जिसमें किसी भी चीज़ की बर्बादी ना हो। फिर चाहे वो पैसा हो, खाना हो या फूल ही क्यों ना हो। इस शादी में खाने की प्लास्टिक प्लेट्स की जगह केले के पत्तलों का उपयोग किया गया है जिसमें बड़ें ही शौक से लोग बैठकर खाने का मजा ले रहे थे। वहीं पानी पीने के लिये स्टील के ग्लास इस्तेमाल किये गया है।
वधु (Veena) ने अपनी शादी में कोई भी नये कपड़े और ज्वैलरी नही खरीदी। इसके लिये उन्होने अपनी दादी की वो साड़ी और गहने पहने जो उनकी दादी ने अपनी शादी में पहने थे मेहमानों के बैठने के लिये मखमली कुर्सियों को बजाय ज़मीन पर गद्दे बिछाये गये।
डेकोरेशन में इस्तेमाल हुए फूलों को खाद बना बना कर उपयोग में लाया गया। इतना ही नही इस जोड़े ने किसी से भी उपहार नही लिया बल्कि उपहार देने वालों से इन उपहारों को अनाथ व गरीब लोगों को देने की गुजारिश की है कपल की शादी में खाने की बिल्कुल बर्बादी नहीं हुई क्योकि सादी के बाद बचे हुए खाने को ज़रूरतमंद लोग में बांट दिया गया। अगर ऐसा कहें कि ये कपल बहुत ग़रीब है या फिर अच्छे तरीके से शादी नहीं कर सकता। तो ऐसा सोचना बिल्कुल गलत है। इस जोड़े को दूसरे को मुकाबले सादगी से जीना और पैसे की बर्बादी न करना बेहतर लगता है।
यदि ऐसी ही उम्मीद हम इस शाही परिवार से करें तो कोई गलत नही है। मुकेश अंबानी देश के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक हैं, इसलिये उनका देश के प्रति भी कुछ कर्तव्य बनता है। शादी में पैसा ख़र्च करना बिल्कुल ग़लत नहीं है, लेकिन शायद चीज़ों की बर्बादी करने से पहले आपको ये सोचना चाहिए था कि इन पैसों से कितने ग़रीबों की ज़िंदगी संवर सकती थी।

प्रस्तुति:दीपक निगम