आपके स्वास्थ्‍य के लिए दो महत्वपूर्ण जानकारी

तम्बाकू में हानिकारक या विषाक्त पदार्थ क्या हैं?
ये लगभग हर धूम्रपान में पाए जाते हैं और विषैले होते हैं- निकोटीन, साइनाइड, तम्बाकू या सिगरेट में 4000 रसायन, जो धूम्रपान रहित तम्बाकू में होते हैं और इनमें से अनेक मानव शरीर के लिए हानिकारक हैं। इसके अलावा, तम्बाकू के धुएं में कैंसर उत्पन्न करने वाले रसायन हैं। तम्बाकू के धुएं की मोटर, कार्बन मोनाक्साइड, नाइट्रोजन ऑक्साइड, हाइड्रोजन कणों, धातुओं, रेडियोएक्टिव यौगिक पदार्थों जैसे कार्बन मोनाक्साइड, कार्बन मोनाक्साइड, धातुओं, रेडियोधर्मी संघटकों और आपको यह पता चल जायेगा कि तंबाकू के धुएं में जहरीले पदार्थ का प्रयोग (आर्सेनिक), एक मजबूत गंध (1) के रूप में किया जा रहा है, जो कि एक तीव्र गंध (डोमिनम 210), ईंधन और शौचालय की सफाई वाले एसिड (डोमोडेंट) के रूप में भी प्रयुक्त है।
परिष्कृत तेल क्या है?
यह भारत में एक लोकप्रिय और अत्यधिक विज्ञापित खाना पकाने का तेल है। यह आमतौर पर बेकरी उत्पादों को बनाने के लिए प्रयोग किया जाता है। शोधन का अर्थ है वसा और तेलों को शुद्ध करना। यह प्रक्रिया, विषाक्त पदार्थों, निलंबित सामग्री और फैटी एसिड को हटाने में मदद करती है। इस प्रक्रिया के दौरान रंग और गंध को भी हटा दिया जाता है। हालांकि इस प्रक्रिया से तेल बेस्वाद बनता है लेकिन यह और भी स्थिर हो जाता है। परिष्कृत तेलों में उसी प्रकार के अपरिष्कृत तेल की तुलना में लंबे समय तक शैल्फ का जीवन है। इस प्रक्रिया के दौरान विटामिन के साथ दुर्ग की रचना भी की जा सकती है। शहरी क्षेत्रों मंे परिष्कृत तेल लोकप्रिय रहे हैं जबकि ग्रामीण इलाकों में सरसों, तिल और नारियल तेल की उपलब्धता उनकी शुद्धता, उपलब्धता और सुगंध के कारण होती है। हाइड्रोजनीकृत या वनस्पति तेल क्या है? वनस्पति या वनस्पति तेल या हाइड्रोजनीकृत तेल लोकप्रिय हैं।
-आनंद किशोर, योग प्रशिक्षक, प्राकृतिक चिकित्सा सहलाकर