Massive protest by AAP Party in Lucknow against police raid on Kejriwal house.

आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने आज, दिल्ली में अरविंद केजरीवाल के आवास पर शुक्रवार को मोदी जी की पुलिस द्वारा डाले गए छापे और उसका विरोध प्रदर्शन करने जा रहे लखनऊ के कार्यकर्ताओं पर योगी की पुलिस के बर्बर लाठीचार्ज के विरोध में जीपीओ पर विरोध प्रदर्शन किया | पार्टी ने उत्तर प्रदेश के राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन ACM प्रथम के जरिए सौंपा, इस अवसर पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए प्रदेश प्रवक्ता एवं जिला अध्यक्ष लखनऊ, वैभव महेश्वरी ने कहा, कि जिस तरह से एक चुने हुए मुख्यमंत्री के ऊपर केंद्र सरकार खुली तानाशाही के जरिए दबाव बना रही है, सरकार का उत्पीड़न कर रही है, घिनौनी साजिशें कर रही है, जनता के भले के कामों में अड़ंगा लगा रही है, और उसमें विफल हो जाने पर सीबीआई और पुलिस का इस्तेमाल करने से भी नहीं हिचक रही है, इससे देश में एक संवैधानिक संकट पैदा हो गया है,  लोकतंत्र के लिए यह आचरण एक खतरा बन गया है, उन्होंने कहा कि कल केजरीवाल के आवास पर पुलिस छापे की सूचना मिलने पर आम आदमी पार्टी के प्रदेशभर के कार्यकर्ताओं को, जो कि लखनऊ में एक बैठक के लिए एकत्रित थे, जीपीओ पर शाम 4:30 बजे शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन करने जीपीओ की तरफ जाते हुए रास्ते में उनको पुलिस ने रोका और गिरफ्तार करने के बजाए सीधे बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज कर दिया | निहत्थे कार्यकर्ताओं को काफी चोटें आई, 16 कार्यकर्ता घायल हुए, एक कार्यकर्ता का सर फट गया, दो के हाथ में फैक्चर है, 
इस घटना पर बेहद आक्रोशित बनारस के पोर्वांचल जोन अध्यक्ष संजीव सिंह ने योगी सरकार को एक कायर और क्रूर सरकार बताया और कहा कि पुलिस के डंडे और गोलियों के सहारे इस देश में सरकारें नहीं चलेंगी,  दोनों घटनाओं के विरोध में आज लखनऊ के कार्यकर्ता जीपीओ पर धरने पर बैठे, 
यहां पर प्रदेश प्रवक्ता एवं माहेश्वरी ने दोहराया कि आजादी की लड़ाई में अंग्रेजों की लाखों गोलियां डंडे भी उस संघर्ष को रोक नहीं सके और आजादी मिलने तक वो संघर्ष जारी रहा, तो वही खून आज हमारे अंदर भी है, आज की तानाशाही सरकारों को यह समझ लेना चाहिए, कि वह जितना दमन का प्रयोग करेंगे यह संघर्ष उतना तेज होता चला जाएगा, हम लोग लाठी डंडे से डरने वाले लोग नहीं हैं,
 प्रदेश प्रवक्ता महेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि लखनऊ की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है,  उन्होंने कहा कि उन्नाव में एक दलित लड़की को जिंदा जला दिया गया, ऐसी घटनाएं प्रदेश में रोज हो रही हैं, प्रदेश सरकार भले ही अपनी आंखों आंखों पर पट्टी बांध लें लेकिन आम आदमी पार्टी इन पर चुप नहीं बैठने वाली, और इस पर प्रदेश सरकार के निकम्मेपन के खिलाफ लगातार विरोध प्रदर्शन और तेज किए जाएंगे | 
धरने में असद अब्बास, रेहान गनी, sp बागी, गौरव महेश्वरी, महेंद्र प्रताप सिंह, आशुतोष, वंशराज दुबे, मोहम्मद तकी, तुषार, अमित चोपड़ा, PL सोनी सहित दर्जनों कार्यकर्ता शामिल हुए, पार्टी ने राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन एसीएम प्रथम को सौंपते हुए उनसे यह आशा जताई कि वह पार्टी की अपेक्षाओं को राज्यपाल तक पहुंचाएंगे

Inputs by Vaibhav Maheshwari.
Afzal ali shah
Lucknow.