शराबबंदी पर नीतीश कुमार का सराहनीय कदम

nitish-kumar-cm-biharआज देश की जनता नीतीश कुमार के शराबबंदी के इस कदम की सराहना कर रही है और देश में विभिन्न राज्यों से सामाजिक कार्यकत्र्ता अपने कार्यकर्मों में बुला रहे हैं ताकि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लोगों को जागृत करें और अपना भविष्य का सपना लोगों को बताएं। हालही में जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केरल विधानसभा चुनाव में प्रचार के दौरान भाजपा और केंद्र सरकार को निशाने पर रखा. यह कितना मुश्किल कदम है यह देश के शराबियों से पता कर सकते हैं। शराबबंदी पर कानून बनाकर इसे और सख्त कर दिया जाना चाहिए। नीतीश कुमार ने इसे समाज के लिए एक अभिशाप समझकर इसे अपने राज्य में पूर्णरूप से बंद करवा दिया।

नीतीश कुमार ने बिहार में पूर्ण शराबबंदी की चर्चा करते हुए कहा कि तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव लड़ रही दोनों प्रमुख पार्टियों ने कहा है कि सरकार बनने पर  प्रदेश में पूर्ण शराबबंददी लागू करेगी. केरल में भी यह चुनावी मुद्दा बन गया है. लेकिन, भाजपा शासित राज्यों और केंद्र सरकार ने इस पर चुप्पी साध रखी है. अपने भाषण में नीतीश कुमार ने शराबबंदी को मुख्य मुद्दा बताया.

केरल में नीतीश कुमार के भाषण को मलयालम भाषा में ट्रांसलेट कर सुनाया गया.  अपने भाषण में उन्होंने बिहार के विकास की कहानी चर्चा की. उन्होंने कहा कि भाजपा के प्रति लोगों को आगाह करते हुए कहा कि केरल की ताकत उसका  धर्मनिरपेक्ष चरित्र है और सांप्रदायिक ताकतों का राज्य में आने से संकट संकट पैदा हो सकता है.

चांडी सरकार में शामिल जदयू के मंत्री ने कहा कि अगर उनके गंठबंधन की सरकार बनती है, तो यहां भी विकास का बिहार माडल लागू किया जायेगा. केरल के चुनावी दौरे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ जदयू के राष्ट्रीय महासचिव और विधानसभा में दल के उपनेता श्याम रजक भी मौजूद थे. वहीं, प्रेस कॉन्फ्रेंस में नीतीश कुमार के साथ जदयू के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद वीरेंद्र कुमार भी मौजूद थे.

आज देश के अंदर जनता की कई बड़ी समस्याएं हैं जो एक इंसानिय प्रिय, धर्मनिर्पेक्ष, ईमानदार नेता ही कर सकता है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबंदी करके जनता का भरोसा जीत लिया है। आज देश में एक माहौल है और वह यह चाहता है कि देश की जनता का भला हो, भाईचारा कायम हो, शांती हो, सभी धर्मों के लोग मिलजुलकर अपना जीवन बिताएं। यह हम सब जानते हैं कि इस दुनिया में कोई भी इंसान हमेशा रहने के लिए नहीं आया है और जो यहां नेकी करेगा उसका हमेशा के लिए अच्छा नाम लिया जाएगा। और प्रिय पाठको यह हम सब जानते ही हैं कि कौनसा नेता भ्रष्ट है, गुंडा है, कपटी है मगर हम देश की बैवकूफ जनता को नहीं समझा सकते हैं कि किस नेता को चुनना है किस को नहीं चुनना है। हम यह अपील करते हैं कि बिना किसी लालच में आए हुए अपने विवेक का इस्तेमाल करके सिर्फ ईमानदार, धर्मनिर्पेक्ष नेता को वोट दें।

संपादकः मोहम्मद इस्माईल